संदेश

February, 2010 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

शाहरुख़ की चाल

आखिर शाहरुख़ खान देश को " माय नेम इज खान" फिल्म में संदेस क्या देना चाहते है . क्या हमारे समाज और हिन्दू मुस्लिम एकता को बाटना चाहते है या कहे तो उनका इरादा मुस्लिम लीडर बनाने का है . नहीं तो फिल्म के माध्यम से विदेशो में देश की छबि को दिखाना चाहते है . मुझे तो शाहरुख़ के इमान पर शक होता है . शोर शराबे करा कर कांग्रेस को अच्छा बना रहे है . या बाल ठाकरे जैसे रोड छाप नेता को हीरो बन्ने का मौका दे रहे है . कही बाल और शाहरुख़ में दोस्ती तो नहीं है ???????????????????????????????????? आप अपना सुझाव जरुर दे .